Knowledge

भारत के 10 सबसे लोकप्रिय मंदिर

भारत में आस्था धर्म का सबसे मुख्य पहलू मानी गई है। आस्था के सहारे ईश्वर की प्राप्ति का वर्णन ऋषि मुनियों से लेकर धार्मिक ग्रंथों तक में किया गया है। हमारी आस्था और विश्वास का ही जीवंत रूप भारत के मंदिरों में देखने को मिलता है। इतिहास की कई कहानियों में इन मंदिरों के निर्माण की कहानी भी वर्णित की गई है। यू ंतो भारत में मंदिरों की गिनती की जाए तो अंत नहीं हो पाएगा । क्योंकि यहां चौराहों से लेकर बड़े-बड़े भवनों तक में मंदिर होना कोई बड़ी बात ही नहीं है। लेकिन ऐसे पौराणिक मंदिर जिनकी भव्यता उनके होने से तो है ही लेकिन इसके साथ ही उसके होने के पीछे की मान्यता, इतिहास भी उसे अपने आप में स्मरणीय बनाता है। भारत की विश्व भर में काफी धार्मिक प्रतिष्ठा है और इस धार्मिक प्रतिष्ठा को रूपान्वित करते है देश भर के अनेक मंदिर। इन्ही में भारत के सबसे लोकप्रिय मंदिर है-

भारत के बारे में कुछ हैरान कर देने वाली जानकारियां

अमरनाथ मंदिर (Amarnath Mandir)

यह मंदिर जम्मू और कश्मीर की एक विराट गुफा के अंदर बना हुआ है। यह गुफा समुद्र तल से 4000 मीटर की ऊचांई पर स्थित है। और यहां पहुंचने के लिए श्रद्धालुओं को पाचं दिन की कड़ी यात्रा करनी पड़ती है। इस यात्रा में भी श्रद्धालुओं को कई सारे पड़ावों से गुजरना पड़ता है सरकार द्वारा जारी किए गई गाइडलाइन्स को पूरा करने के बाद आपकों यात्रा की अनुमति दी जाती है। स्वास्थ्य संबंधी पूरी जांच होने के बाद आपको इस यात्रा पर जाने का अनुभव प्राप्त हो सकता है। अमरनाथ गुफा में बर्फ की प्राकृतिक शिवलिंग किसी अजूबे से कम प्रतीत नहीं होती।

श्री जगन्नाथ मंदिर (Shri Jagannath Mandir)

यह मंदिर उड़ीसा के पुरी में स्थित है। यह भारत के आस्था के सबसे बड़े केन्द्र चारधामों में से एक धाम है। यह मंदिर भगवान विष्णु के अवतार भगवान जगन्नाथ ही को समर्पित है। हर साल पुरी में आयोजित होने वाली भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा देखने के लिए लाखों की संख्या में श्रद्धालु आते है। यहां भगवान जगन्नाथ के अतिरिक्त बालभद्र और सुभद्रा जी को भी पूजा जाता है।

सिद्धिविनायक मंदिर (Siddhi Vinayak Mandir)

यह मंदिर महाराष्ट में स्थित है। भगवान गणेश को समर्पित यह मंदिर दो सदियों पुराना है। गणेश चतुर्थी के समय इस मंदिर में भारी संख्या में श्रद्धालु भगवान गणेश के दर्शन करने आते है। साथ कई बड़ी हस्तियों के आने के कारण भी यह मंदिर अक्सर सुर्खियों में बना रहता है। इस मंदिर श्रद्धालुओं की ऐसी आस्था है कि यहां पर संतानहीन जोड़े की सभी मुरादे पुरी होती है।

स्वामीनारायण मंदिर (Swami Narayan Mandir)

यह मंदिर भारत की राजधानी दिल्ली में स्थित है। दिल्ली के एक छोर में बना यह मंदिर बारीकी से तराशकर बनाया गया। मंदिर में मौजूद भगवान स्वामीनारायण की मूर्ति तो लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती ही है। साथ ही यहां पर होने वाला साउंड और लाइट कार्यक्रम भी लोगों के मध्य में लोकप्रिय है। इसलिए यहां लोग अक्सर शाम के समय जाना ज्यादा पंसद करते है।

प्रेम मंदिर (Prem Mandir)

यह मंदिर वृन्दावन में स्थित है। सफेद संगमरमर के पत्थरों से बना इस मंदिर में भगवान कृष्ण को पूजा जाता है। रात के वक्त मंदिर में रंगबिरंगी रोशनी के कारण भगवान कृष्ण के मोरपंख की छटा मंदिर की दीवारां में देखने को मिलती है। जन्माष्टमी के अवसर पर इस मंदिर की भव्यता मन को मोहित कर जाती है। हर साल कितने ही लोग इस मंदिर में दर्शन करने के लिए जाते है।

श्री वैकंटेश्वर मंदिर (Shri Venketeshwer Mandir)

यह मंदिर आंध्र प्रदेश के तिरूपति शहर में तिरूमला की पहाड़ियों के ऊपर बना मंदिर हे। यहां पर हर सुबह विशेष पूजा आयोजित होती है हरी भरी वादियों के बीच में मौजूद होने के कारण यहां पहुंचकर आपकों एक अलग ही सुकून की प्राप्ति होगी।

हर की पौड़ी (Har ki Poudi)

हरिद्वार शहर में स्थित हर की पौड़ी पावन गंगा नदी के तट पर स्थित है। यह एक लोकप्रिय घाट है। यहां देश भर से हर साल भारी संख्या में लोग डुबकी लगाने आते है। यहां बारह सालों के दौरान कुंभ मेले का भी आयेजन किया जाता है।

बद्रीनाथ मंदिर (Badrinath Mandir)

उत्तराखंड की पहाड़ियों के बीच में स्थित यह मंदिर समुद तल से 10000 फीट की ऊचांई पर बना भगवान विष्णु का भव्य मंदिर है। यह मंदिर चार धामों में से एक है। यहां बने प्राकृतिक गर्म पानी के तप कुंड में नहाकर ही चर्म रोग दूर हो जाते है।

केदारनाथ मंदिर (Kedarnath Mandir)

उत्तराखंड में ही गढ़वाल की बर्फीली पहाड़ियों के बीच में बना केदानाथ मंदिर हर साल हजारों लोगों की आस्था का केंद्र बनता है। दीवाली के तीन बाद भाई दूज के दिन इस मंदिर के कपाट बन्द कर दिए जाते है। और अप्रैल महीने में यह फिर से खोल दिए जाते है। साल 2013 में आई भीषण आपदा में भी यह मंदिर ज्यों का त्यों बना रहा। बारह र्ज्योलिंगों में से एक में शामिल यह मंदिर सबसे ऊचांई पर स्थित पर मौजूद है।

मां वैष्णों देवी मंदिर ( Maa Vaishno Devi Mandir)

जम्मू और कश्मीर में स्थित मां वैष्णों देवी मंदिर की भक्त जनों में बहुत आस्था है। यहां पर मां वैष्णों की प्रतिमा एक संकरी गुफा के अंदर स्थापित हे। यहां पर मां के दर्शन के लिए कटरा से पैदल यात्रा की सुविधा है। यह आस्था के सबसे बड़ें केंद्रों में से एक है।

Follow Us : Facebook Instagram Twitter

लेटेस्ट न्यूज़ और जानकारी के लिए हमे Facebook, Google News, YouTube, Twitter,Instagram और Telegram पर फॉलो करे

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular

To Top