Knowledge

2020 में विश्व की सबसे भयानक घटनाएं

2020 की शुरूआत कोरोना जैसी भीषण महामारी के साथ हुई जो अब भी जारी है। पूरे विश्व में कहर बरसा चुके इस वायरस ने लाखों लोगों की जान ले ली। विश्व स्तर पर इस महामारी को एक वैश्विक आपदा की संज्ञा दे दी गई। सम्पूर्ण विश्व को लॉकडाउन तक पहुंचाने वाले इस वायरस का कहर अब भी जारी है। वायरस की नई स्ट्र्रेन से कइ्र्र देशों में हालात खराब किए हुए है। न केवल विकासशील बल्कि विकसित देशों की अर्थव्यवस्थाओं ने भी गिरावट का सामना किया। बेरोजगारी का स्तर पूरे विश्व में कई गुना ज्यादा बढ़ गया। वैश्विक स्तर पर इसके अतिरिक्त अनेक ऐसी घटनाएं हुई जिनकी कल्पना से हमारा दिल दहल उठेगा। 2020 की ऐसी घटनाएं जिन्होने विश्व में इस महामारी से भी ज्यादा भयानक रूप दिखाया-

1.ऑस्ट्रेलियाई बुशफायर – 2020 जब विश्व के सभी देश नए साल का आगाज कर रहें थे तब ऑस्ट्रेलिया सबसे बड़ी प्राकृतिक आपदा का सामना कर रहा था।जिसके चलते ऑस्ट्रेलिया के कई राज्यों में आपातकाल की घोषणा की गई। ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी इस आग ने अपनी कतार में आती सभी चीजों को तहस नहस कर दिया। ऑस्ट्रेलिया की मेडिकल जर्नी की एक रिर्पोट में यह अनुमान लगाया गया कि कम से कम 18.6 मिलियन हेक्टेयर भूमि, 5900 से भी अधिक इमारते इस आग की चपेट में आकर नष्ट हो गई और लगभग 434 लोगों की मौत हुई जिसमें से 400 के करीब लोग अवशिष्ट धुएं के वजह से सांस न लेने के कारण मारे गए।

2. इंडोनेशिया की विनाशकारी बाढ़ – 1 जनवरी 2020 को इंडोनेशिया की राजधानी ने भीषण बाढ़ का सामना किया। जिसके चलते करीबन 4 लाख से अधिक लोग अपने घरों से बेघर हो गए। बाढ़ और बारिश के एक साथ बरपे कहर ने लोगों को अपने घरों से भागने पर मजबूर कर दिया। अधिक बारिश के कारण भूस्खलन की वजह से कई लोग हादसे का शिकार होकर अपनी जान गंवा बैठें। इस भीषण आपदा में 66 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़़ी।

3.भारत, पाकिस्तान, पूर्वी अमेरिका व एशिया के कुछ हिस्सो में टिडडी का कहर – बीते साल में जहां एक तरफ कोरोना का कहर जारी रहा वही भारत और कई अन्य देश टिडडी के आंतक का सामना भी करते रहें। पाकिस्तान में अपना कहर बरपा चुके ये टिडडी दल भारत के राजस्थान, गुजरात, पंजाब, हरियाणा , उत्तर प्रदेश तथा मध्यप्रदेश  की ओर अग्रसर हुआ । पहले पूर्वी अफ्रीका और फिर पाकिस्तान में सर्तक यह टिडडी दल मनुष्यों को प्रभावित नहीं करते बल्कि फसलों को नुकसान पहुंचाते हैं। जलवायु परिवर्तन को इनके अस्तित्व में आने का सबसे मुख्य कारण माना गया। ऐसा अनुमान लगाया गया  कि 2019 में असामान्य रूप से हुई बारिश और बढ़े हुए तापमान ने इन टिडिडयों के प्रजनन और झुंड को पनपने के लिए एक योग्य माहौल तैयार करके दिया। ये कीड़े तेजी से प्रजनन ही नहीं करते बल्कि एक वर्ग किलोमीटर में करीब 150 मिलियन टिडडे मौजूद हो सकते हैं। ये फसलों के लिए उतने ही ज्यादा घातक और नुकसान पहुंचाने वाले साबित हुए।

4. फिलीपींस में हुआ ज्वालामुखी विस्फोट – 43 साल पहले फिलीपींस के लुजोन में मौजूद दूसरा सबसे सक्र्रिय ज्वालामुखी तायल साल 2020 में एक बार फिर सक्रिय हुआ जिसके चलते 100 कि.मी की दूरी पर विस्फोट और राख की धूल उड़ी। ज्वालामुखी के इस विस्फोट के चलते 300,000 से अधिक लोगों को अपने स्थान को छोड़कर जाना पड़ा। नेशनल डिजास्टर रिस्क रिडक्शन एंड मैनेजमेंट काउंसिल और फिलीपीन इंस्टीटयूट ऑफ ज्वालामुखी और सीस्मोलॉजी ने 13 फरवरी को ज्वालामुखी के आसपास के क्षेत्र में कुल 2,484 ज्वालामुखी टेक्टानिक भूंकपों की सूचना दी। यह अब भी जारी है।

5. तुर्की, द कैरेबियन, चीन, ईरान, भारत में भूकंप – जहां ये विश्व एक तरफ जमीनी स्तर पर कोरेना महामारी आसमान पर टिडडी दलों का सामना कर रहा था। तो धरती के गर्भ से भूकम्प के झटके भी महसूस किए जा रहे थे। सम्पूर्ण विश्व में 45 से भी ज्यादा भूकम्प के झटके महसूस किए गए।जमैका और रसिया ने सात की  तीव्रता सबसे अधिक भूकम्प के झटके महसूस किए जिसके चलते कई लोगों को अपनी जान भी गंवानी पड़ी।

6. अंर्टाटिक की बर्फ का हरा होना – सफेद बर्फ की चादरो से लिपटे अंर्टाटिका के कुछ हिस्सों में बर्फ का रंग हरा पाया गया। वहां की बर्फ का तेजी से पिघलना पहले ही चिन्ता का विषय बना हुआ था। एक शोध के अनुसार ‘ महाद्वीप में गर्म तापमान और पिघलती बर्फ से अल्गुल यानी शैवाल की आबादी में तेजी से वृद्धि होने में मदद मिल रही है। जो तेजी से विस्तार कर रहे है और जिसके कारण बर्फ की चादर अब हरी दिखाई देनी शुरू हो गई हैं। कई स्थानों पर यह इतने विस्तृत रूप में सामने आई है कि अंतरिक्ष से भी देखी गई है।

7. लेबनान ब्लास्ट – विश्व स्तर पर सबसे बड़ी घटनाओं में लेबनान के बेरूत के बंदरगाह में चार अगस्त को हुए भीषण धमाके से पूरा शहर हिल गया। यह विस्फोट इतना भयानक रहा कि 178 से अधिक लोग इसके चलते मारे गए तो वही 6500 से अधिक लोग घायल व 300,000 लोग बेघर हो गए। ये देश पहले से ही आर्थिक संकट के साथ साथ कोरोना जैसी भीषण महामारी का सामना कर रहा था।

यह है January 2021 में बेस्ट Selling मोबाइल फ़ोन

Follow Us : Facebook Instagram Twitter

लेटेस्ट न्यूज़ और जानकारी के लिए हमे Facebook, Google News, YouTube, Twitter,Instagram और Telegram पर फॉलो करे

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular

To Top