Travel

पर्यटन की दृष्टि से भारत की ऐतिहासिक जगह

भारत में ऐसी अनेक जगह है जो ऐतिहासिक दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण मानी जाती है। जहां साल भर पर्यटकों का आना जाना लगा रहता है। ऐसी जगहों की बात की जाए तो उनमें सबसे पहले नाम आता है-

1. स्वर्ण मंदिर, अमृतसर- गोलडन टेम्पल के नाम से मशहूर स्वर्ण मंदिर को दरबार साहिब के नाम से भी जाना जाता है। यह पंजाब के अमृतसर शहर ंमें स्थित है। इसका निर्माण गुरू अर्जन देव और उनके गुरू रामदास द्वारा बनावाया गया था। इसके निर्माण कार्य को पूरा होने में आठ साल का समय लगा था। यह मंदिर करीब 430 साल पुराना है। पूरा अमृतसर शहर स्वर्ण मंदिर के आसपास बसा हुआ है। हरमिंदर साहिब में दर्शन करने प्रतिदिन हजारों श्रद्धालु और पर्यटक आते है। गुरूदास द्वारा जिस सरोवर का निर्माण किया गया उसी के बीच में स्वर्ण मंदिर का निर्माण करवाया गया। इस गुरूद्वारे का बाहरी हिस्सा सोने का बना हुआ है। यहां गुरू का लंगर चौबीस घंटे खुला रहता हैं। ऐसा माना जाता है प्रतिदिन 40000 लोग गुरू का प्रसाद ग्रहण करते है। इसका निर्माण सन 1784 में करवाया गया था। गर्मियों के मौसम में पर्यटक और श्रद्धालु भारी संख्या में यहां दर्शन करने आते है। सच्चे मन से यहां कई श्रद्धालु अपनी इच्छा लेकर आते है।

Also Read : ऐसे बनाये डिजिटल विजिटिंग कार्ड, गूगल दिखाएगा आपका प्रोफाइल

2. गेटवे ऑफ इंडिया- गेटवे ऑफ इंडिया भारत की औद्योगिक राजधानी मुंबई में स्थित है। इसका निर्माण किंग जार्ज और क्वीन मैरी के सम्मान में बनवाया गया था। इसका निर्माण कार्य पूरा होने में करीब नौ वर्षा का समय लगा था। यह करीब 95 साल पुराना है। मुंबई का दीदार करने गए लोगों का एक बार इस जगह जाना तय है। यह मुंबई में काफी लोकप्रिय जगहों में से एक हैं।

3. फतेहपुरी सीकरी – यह उत्तरप्रदेश के आगरा शहर में स्थित है। इसे मुगल बादशाह अकबर द्वारा बनवाया गया था जो करीब 450 साल पुराना है। और इसका दीदार करने गए लोगों को यहां बुलंद दरवाजा, पांच महल, जामा मस्जिद और सलीम चिस्ती का मकबरा देखने को मिल जाएंगे। जो यहां काफी लोकप्रिय है।

4. मैसूर प्लेस- यह कर्नाटक राज्य के मैसूर शहर में स्थित है। इसे महाराजा कृष्ण राज वोडवरी चर्तुथ और उनकी मां महारानी कैमपनाजम्मानी देवी द्वारा बनवाया गया था। इसका निर्माण कार्य ब्रिटिश आर्किटैक्ट लॉर्ड हैनरी इरविन से बनवाया था। इसका निर्माण कार्य पूरा होने में करीब पंद्रह वर्षो का समय लगा था। यह करीब 107 पुराना है।

5. लाल किला- दिल्ली में स्थित इस किले का निर्माण मुगल बादशाह शाहंजहां द्वारा किया गया था जिससे बनने में करीब नौ वर्षो का समय लगा था। लाल पत्थरों से निर्मित होने के कारण इस किले को लालकिले के नाम से जाना जाता है। यह किला करीब 371 साल पुराना है। बहादुर शाह जफर जो अंतिम मुगल शासक रहें ने रगुंन जाने से पहले अपना समय यही बिताया था साथ ही 1857 के विद्रोह में भी यह किला साक्षी बना। प्रत्येक वर्ष लालकिले की प्राचीर से खड़े होकर प्रधानमंत्री मोदी द्वारा स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ध्वाजारोहण किया जाता है। साथ देश की जनता को सम्बोधित करने का कार्य भी किया जाता है।

6. हवा महल- राजस्थान के जयपुर में स्थित इस महल का निर्माण महराजा सवाई प्रताप सिंह द्वारा करवाया गया था। ये महल लाल और गुलाबी पत्थरों से बना हुआ है। ये महल करीब 220 साल पुराना है। गुलाबी सिटी के नाम से मशहूर जयपुर में यह किला पर्यटकों व आम लोगों दोनों के बीच अपनी भव्यता और बेहतरीन वास्तुकला के लिए जाना जाता है। इसकी वास्तुकला का डिजाइन लाल चंद उस्ता द्वारा तैयार किया गया था। यह बाहर से देखने पर मधुमक्खी के छत्ते के समान प्रतीत होता है। इनकी खिड़कियों को जालीदार तरीके तैयार किया गया। इसकी जालीदार खिड़कियों के कारण अतिरिक्त ‘‘वेचुंरी प्रभाव’’ के कारण इन जटिल संरचना वाले जालीदार झरोखों से सदा ठंडी हवा, महल के भीतर आतीहै। जो गर्मी के मौसम में भी राहत देती है।

7. विक्टोरिया मैमोरियल- कोलकाता में स्थित विक्टोरिया महल का निर्माण किंग जार्ज पंचम  द्वारा रानी विक्टोरिया की याद में करवाया गया था। इस इमारत का निर्माण कार्य पूरा होने में 1906 से 1921 तक करीब पन्द्रह वर्षो का समय लगा था। यह करीब सौ साल पुरानी इमारत है। इसे सफेद संगमरमर के पत्थरों से बनवाया गया था। वर्तमान समय में यह म्यूजियम के रूप परिवर्तित हो चुका है जो सांस्कृतिक मंत्रालय के अधीन आता है। हालांकि, अभी यह कोरोना संक्रमण के वजह से बंद किया गया है।

8. आमेर फोर्ट- राजस्थान के आमेर में स्थित आमेर फोर्ट्र का निर्माण मीनास द्वारा किया गया वहीं बाद में महाराजा मान सिंह द्वारा इस पर शासन किया गया। यह करीब 427 साल पुराना किला है। यह किला लाल पत्थर और संगमरमर से बना हुआ है। यह राजधानी जयपुर से करीब 11 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह पहाड़ों पर काफी उचांई में स्थित है। जो पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र बना है। अपनी वास्तुकला के कारण यह और भी ज्यादा आकर्षित करता हे।

Follow Us : Facebook Instagram Twitter

लेटेस्ट न्यूज़ और जानकारी के लिए हमे Facebook, Google News, YouTube, Twitter,Instagram और Telegram पर फॉलो करे

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular

To Top