Life Style

छिप जाएगी आपकी बढ़ती उम्र, करें खान-पान में बदलाव

Apne khane me kare ye badlao
Apne khane me kare ye badlao

बढ़ती उम्र के साथ हमारे शरीर में भी कई बदलाव महसूस किए जाते हैं। उम्र के बढ़ने के साथ हड्डियों में कमजोरी महसूस होने लगती है। महिलाओं का शरीर कई तरह के बदलावों से गुजरता है मां बनने के दौरान भी महिलाओं को कई बदलावों का सामना करना पड़ता है। इसलिए शरीर में हड्डियों का कमजोर होना कोई बड़ी बात नजर नहीं आती। अक्सर महिलाएं परिवार की जिम्मेदारी को निभाते निभाते खुद पर ध्यान देना भी जरूरी नहीं समझती हैं। शरीर में आए बदलावों को पूरी तरह से अनदेखा कर वह रोजमर्रा के कामों में अपना समय बिता देती हैं। लेकिन ये बदलाव ही आगे चलकर कई गंभीर समस्याओं को जन्म दे देते हैं। जिसका असर चालीस की उम्र में अधिक देखने को मिलता है। और हो भी क्यां ना बढ़ती उम्र के साथ हड्डियां के कमजोर होने के साथ ही कई अन्य बदलाव भी शरीर में होने लगते हैं। महावारी का बन्द होना जैसी गंभीर समस्या का सामना भी चालीस की उम्र में ही देखने को मिलता हैं। जिसके चलते महिलाओं में चिड़चिड़ापन, कमर दर्द, घुटनों का दर्द जैसी गंभीर समस्यांए देखने को मिलती हैं। इसलिए पुरूषों के मुकाबले महिलाओं को अपने शरीर पर अधिक ध्यान देने की जरूरत होती है। क्योंंक बढ़ती उम्र के साथ मेटाबॉलिज्म सिस्टम और मांसपेशियां कमजोर होने लगती है। शरीर अंदर से इस कदर खोखला हो जाता है कि हमें कई गंभीर बीमारियां घेर लेती हैं।

Diet And Fitness Tips: लंबे समय तक रहना है जवां और हेल्दी, तो इन 4 चीजों का  सेवन आज से ही कर दें बंद! | Diet And Fitness Tips: These Foods To
Apne khane me kare ye badlao

इसलिए जरूरी है कि महिलाएं अपने शरीर को सही उम्र में पोषण युक्त बनाए। इसके लिए जरूरी है महिलाएं हैल्थी डाइट लें। जिसके लिए कुछ टिप्स को अपने जीवन में उतारे।

  1. दैनिक जीवन में हमारे सुबह की शुरूआत नाश्ते से होती है इसलिए जरूरी है कि सुबह उठकर सही समय पर नाश्ता किया जाए। डाक्टर्स की सलाह भी होती है कि सुबह का नाश्ता पेट भर कर करना चाहिए जिससे शरीर पूरे दिन क्रियाशील रहता है और गंभीर बीमारियों से भी बचा रहता है। नाश्ते में उचित पोषणयुक्त आहार लेना चाहिए। जिसमें दूध,अंडे, रोटी, सब्जी, कार्नफलेक्स, आदि फाइबर से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए।इससे पूरे दिन शरीर में ऊर्जा बनी रहती है ।
  2. अक्सर जो महिलाएं घर पर रहती है यानी ग्रहणियां वो खाने के समय अक्सर लापरवाही कर जाती हैं। सुबह के नाश्ते के बाद सीधा दिन का खाना और उसके बाद सीधा रात का। ये हमारी रोजमर्रा के जीवन का एक सटीक टाइमटेबल होता है, जिसके चलते हम इसके बीच में मुश्किल ही कुछ खाते है। लेकिन सुबह के नाश्ते के बाद हमें दो दो घंटे के अंतराल के बाद फलों का सेवन करना चाहिए। इससे शरीर में ऊर्जा का संचार बना रहता है। फलों में अगर हम सेब खाना ज्यादा पंसद करें तो शरीर के लिए काफी लाभदायक साबित होता है।
  3. पानी तो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद साबित होता है। पानी पीना किसी भी उम्र के व्यक्ति के लिए जरूरी होता हैं । जितना ज्यादा आप अपने शरीर के अनुसार पानी पिएेंगे उतना ही ज्यादा आपके शरीर की गंदगी दूर होगी। ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए पानी पीना काफी ज्यादा फायदेमंद साबित होता है। उचित मात्रा में पानी पीने से शरीर का ब्लडप्रेशर काबू में रहता है। इसके साथ चालीस की उम्र भी आपकी त्वचा मुलायम और चमकदार बनेगी।
  4. महिलाओं को सबसे ज्यादा हड्डियों में कैल्शियम की कमी का सामना करना पड़ता है जिसके कारण हाथ पैरों में दर्द की दिक्कत सबसे ज्यादा परेशान करती है। इसलिए जरूरी है कि हम दूध का सेवन सही समय पर करें। दूध हर उम्र के व्यक्ति के लिए जरूरी होता है यह हड्डियों में कैल्शियम की कमी नहीं होने देता साथ ही कमजोरी की समस्या से भी निजात मिलता है। सुबह की बजाय रात को सोते समय दूध का सेवन करना हमारे शरीर के लिए ज्यादा फायदेमंद होता है। आप चाहें तो बाजार में मिलने वाले कैल्शियम पाउडर जो डाक्टर्स की सलाह पर मिलते है को भी दूध में मिलाकर पी सकते है।
  5. आयरन की कमी भी चालीस की उम्र में देखने को मिलती है। इसके लिए हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करना चाहिए। खासकर पालक, बथुआ आदि जैसी सब्जियां। यह खाने में भी उतनी ही पौष्टिक होती है। अनार में आयरन की मात्रा अधिक होती है।
  6. चालीस की उम्र में भी फुर्तीला बने रहने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है उचित व्यायाम करना। व्यायाम करना वैसे हर उम्र के लिए जरूरी होता है इससे शरीर में खून का प्रवाह बना रहता है। इसलिए सुबह शाम कम से कम एक घंटा हमें नियमित रूप से व्यायाम को अपने जीवन में अपनाना चाहिए। इससे बढ़ती उम्र में होने वाली शरीर सम्बंधी परेशानियों से राहत मिलती है। साथ महिलाआें के शरीर में होने वाले बदलाव भी इतना ज्यादा परेशान नहीं करते ।

महिलाओं को अपने शरीर की देखभाल करने के लिए जरूरी है कि वो अपने लिए भी समय निकालें। दिनभर के कामों में से अगर आप अपने लिए समय नहीं निकाल पाते तो यही परेशानियों आगे चलकर गंभीर बीमारियों का रूप लेकर आपके सामने आती हैं।

Follow Us : Facebook Instagram Twitter

लेटेस्ट न्यूज़ और जानकारी के लिए हमे Facebook, Google News, YouTube, Twitter,Instagram और Telegram पर फॉलो करे

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular

To Top