Tech

डिजिटल दुनिया की तरफ बढ़ता भारत

digital india ki traf bharat

इंटरनेट की दुनिया रोजमर्रा के जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुकी हैं। विकास की दौड़ में आगे बढ़ते हुए हम तेजी से डिजिटल वर्ल्ड के आदि होते नजर आ रहें है। भारतीय अर्थव्यवस्था भी डिजिटल अर्थव्यवस्था बनने की राह में आगे बढ़ चुकी है। आर्थिक मुददों पर अब हमारी सबसे पहली पंसद ये डिजिटल वर्ल्ड बन चुका है। और हो भी क्यों न दुनिया की अन्य अर्थव्यवस्थाओं से मुकाबला करना है तो इस दुनिया को अपनाना ही होगा। भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था विश्व के सबसे बडें बाजारों में से एक बन चुकी है। डिजिटल सेवांए  21 वी सदी की अर्थव्यवस्था के लिए एक महत्वपूर्ण कदम साबित होती दिख रही है।

साल 2020 में तो इस डिजिटल दुनिया के कारण वैश्विक गतिविधियों को भी अंजाम दिया गया। यह कहना भी गलत नहीं होगा कि अगर ये दुनिया ना होती तो शायद हमारी वास्तविक दुनिया कई साल पीछे चली जाती। कोरोना महामारी के समय में जब सम्पूर्ण विश्व लाकॅडाउन की प्रक्रिया से गुजर रहा था। लोगों के जीवन में एक ठहराव सा आ गया था तब डिजिटल प्लेटफॅार्म पर कई लोगों को अपने हुनर आजमाने, कुछ नया सीखने, अपनी जरूरत की चीजें हासिल करने, अपने काम को जारी रखने का सुनहरा अवसर मिला। डिजिटल दुनिया को यदि बांटा जाए तो ये इतनी बड़ी है कि हम खुद इसमे कहीं खोते नजर आने लगते हैं।

Digital india ki traf bharat :-
  1. डिजिटल सेवाएं  21 वी सदी का सबसे सुनहरा तोहफा ही समझा जाएगा। सरकार की तरफ से अकसर जो सुविधाएं या आिर्र्थक मदद आम जन तक पहुंचाई जाती रही है उसका दुरपयोग होता रहा है या वो राजनीति या घोटालों की भेंट चढ़ती नजर आई है। लेकिन आनॅलाइन लेन देन की इन प्रक्रियाओं ने हमें एक नई उम्मीद दी है। जिसके चलते अब ये सुविधाएं सीधे तरीके से उस गरीब जन के खाते तक पहुंच रहीं है। धन का अधिंकाश लेन-देन क्र्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, नेट बैकिंग, मोबाइल पेमेंट तथा अन्य डिजिटल माध्यमों से संभव होने लगा है। यही डिजिटल अर्थव्यवस्था के विकास में अहम भूमिका भी निभाता नजर आ रहा है।
  2. डिजिटल दुनिया का आज सबसे बड़ा उदाहरण भारत में इलेक्ट्रॉनिक और मोबाइल कॉमर्स के रूप में देखा जा सकता हैं। तकनीकी स्तर पर हम इतने ज्यादा विकसित हो चुके हैं कि युवा पीढ़ी आज खरीद के लिए इन्हीं आनॅलाइन प्लेटफार्म का इस्तेमाल करना ज्यादा पंसद करती है। भारत की एक अरब आबादी में हर कोई किसी न किसी तरह से इस दुनिया का हिस्सा बना हुआ है। छोटे-छोटे उदयोग धंधे जो अक्सर अपनी पहचान ना होने के कारण बड़े-बडे़ व्यापारियों, ब्रान्डस के नाम के आगे खो जाते है। उन्हें इन ई-कार्मस साइडस के सहारे अपनी पहचान विकसित करने, अपने व्यापार को दोगुना करने और अपने सामान का सीधा फायदा पहुचंता दिखा है जिसके चलते अब उन्हें किसी ब्रान्डेड कम्पनी या किसी बिचौलिए की जरूरत महसूस नहीं होती है।
  3. ये डिजिटल वर्ल्ड सीखने के लिहाज से भी कई ज्यादा फायदेमंद साबित हुआ है। कोरोना के समय में घर बैठे हजारों लोगों को अपने हुनर को दिखाने का मौका इसी के जरिए हासिल हुआ है। नई पीढ़ी को इससे कई चीजें घर बैठे सीखने को मिल रही है। स्कूल्स, कालेजों के बंद होने पर इन्ही आनॅलाइन प्लेटफार्म पर आकर बच्चों को अपनी पढ़ाई जारी रखने का एक सुनहरा अवसर प्राप्त हुआ है। कई परीक्षाओं की तैयारी कर रहें लाखो विद्यार्थी आज आनॅलाइन लर्निंग ऐप्स का इस्तेमाल करके अपनी परेशानियों को घर बैठे ही सुलझा रहें है। डिजिटल प्लेटफॉर्म ने सुविधाओं को सीमित दायरे से बाहर लाते हुए इसे इतना विकसित कर दिया है कि दुनिया अब तेज गति से डिजिटल युग में परिवर्तित हो रही है।
  4. इंटरनेट हमारी रोजमर्रा की जिन्दगी का कितना जरूरी हिस्सा है ये हम सभी जानते है। जहां हाईस्पीड इंटरनेट सेवा विश्व के अलग अलग देशों में अलग अलग तरह से दी जा रही है। भारत अभी 4 जी सेवा का लाभ ले रहा है लेकिन विकसित देशों में यह अब 5 जी या 6 जी की स्पीड में जा चुका है। भारत में भी हाईस्पीड इंटरनेट 5 जी सेवा साल 2020 में शुरू होने की सम्भावनाए महसूस की गई थी।
  5. भारत में अधिकतर आबादी गांव में निवास करती है। इसलिए इंटरनेट की सेवा और डिजिटल की यह दुनिया उनके लिए अभी उतनी ही अनजानी है। लेकिन धीरे-धीरे इन ग्रामीण क्षेत्रों को इस दुनिया का हिस्सा बनाया जा रहा है, ऑप्टिक्ल फाइबर से आज भारत के एक लाख गावं, 121 करोड़ ग्रामीण मोबाइल फोन की सुविधा हासिल कर चुके हैं और 50 करोड़ से भी ज्यादा इंटरनेट सेवा का उपयोग करने वाले लोगों के साथ भारत अब पूरे विश्व में प्रोद्योगिकी के साथ बड़ी सहजता से जुड़ी आबादी वाला देश बन चुका है।

जैसे-जैसे ग्रामीण जीवन भी अब डिजिटल की इस दुनिया का हिस्सा बनता जा रहा है। तो यह कहना गलत नहीं होगा कि विकासशील राष्ट्रो की इस सूची से भारत जल्द ही विकसित राष्ट्र बनने की दिशा में एक कदम और आगे बढ़ चुका हैं।

Follow Us : Facebook Instagram Twitter Youtube

लेटेस्ट न्यूज़ और जानकारी के लिए हमे Facebook, Google News, YouTube, Twitter,Instagram और Telegram पर फॉलो करे

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: ये है दुनिया के सबसे खतरनाक 5 जनजातियाँ - Web Alerts | World most dangerous Tribal

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular

To Top